गंड़ई उप डाकघर में हुये 10,81,194 रूपये की सनसनीखेज चोरी के मामले का खुलासा।


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


राजनांदगांव पुलिस अधीक्षक श्री कमलोचन कश्यप के निर्देशन एवं अति पुलिस अधीक्षक श्री राजेश अग्रवाल के मार्गदर्शन में कार्य कर रही क्राईम ब्रांच राजनांदगांव की टीम ने गंड़ई के उप डाकघर में हुये 10,81,194 रूपये कीे सनसनीखेज चोरी के मामले को के आरोपी को गिरफ्तार कर चोरी गई रकम 10,66,490 रूपये जप्त कर मामले को सुलझाने में सफलता मिली।

मामले का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार है कि प्रार्थी गंड़ई के डाकघर के उप डाकपाल धनेश्वर दास वैष्णव ने थाना गंड़ई में रिपोर्ट दर्ज कराया कि दिनांक 20/10/2018 को उप डाकघर का ताला बंद करवाकर चला गया था अगले दिन रविवार का अवकाश होने के कारण दिनांक 22/10/2018 को डाकघर आने पर देखा कि डाकघर का मेनगेट का ताला तोड़कर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा डाकघर में प्रवेश किया गया है एवं लाॅकर का चाॅबी को भी चोरी कर लिया गया है संभवतः लाॅकर का ताला खोलकर किसी अज्ञात व्यक्ति द्वारा लाॅकर में रखे 10,81,194 रूपये को चोरी कर लिया गया है। प्रार्थी की रिपोर्ट पर थाना गंड़ई में अज्ञात व्यकित के विरूद्ध धारा 457 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना की जा रही थी। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस अधीक्षक राजनांदगांव श्री कमलोचन कश्यप द्वारा क्राईम ब्रांच की टीम को मामले के आरोपी का जल्द से जल्द पता कर मामले का खुलासा करने निर्देशित किया गया। गंड़ई के डाकघर से 10,81,194 रूपये चोरी हो जाने की खबर से क्षेत्र में सनसनी फैल गई। क्राईम ब्रांच की टीम तत्काल हरकत में आते हुएघटना स्थल का निरीक्षण कर गंड़ई में कैम्प कर लगन से कार्य करते हुए मुखबीर लगाया गया था साथ ही टीम द्वारा डाकघर के पूरे स्टाॅफ का विस्तृत कथन लेकर गहन पूछताछ किया गया। प्रार्थी उप डाकपाल ने अपने कथन में बताया कि दिनांक 22/10/2018 को तेजेश्वर सोनी ब्रांच पोष्ट मास्टर अतरिया द्वारा फोन कर बताया गया कि गंड़ई डाकघर के मेन गेट का ताला नही लगा है, प्रार्थी द्वारा अपने बैंग में रखे चांबी को चेक करने पर चाॅबी नही मिली। प्रार्थी ने आगे बताया कि दिनांक 20/10/2018 को लेनदेन का पैसा 10,81,194 रूपये को तिजोरी में रखकर तिजोरी की चाॅबी अपने बैंग में रखा था एवं शाम को बैंग, डाकघर में छोड़कर अपनी रिपेयरिंग कराने दिए स्कूटी को लाने चला गया था और वापस आने के बाद अपने घर डोगरगांव चला गया। प्रार्थी के कथन से टीम को डाकघर से कुछ कर्मचारी पर शक हुआ और उनसे विस्तृत पूछताछ किया गया। पूछताछ में डाकघर के कर्मचारी सौरभ डहरिया पर शक हुआ जिनसे घटना के बारे में कड़ाई से पूछताछ किया गया। कड़ाई से पूछताछ करने पर सौरभ डहरिया ने अपना जुर्म स्वीकार किया और बताया कि दिनांक 20/10/2018 को उप डाकपाल धनेश्वर दास वैष्णव जब बैंग को रखकर अपनी स्कूटी लाने गया था, उसी दौरान लाॅकर की चाॅबी को चुराकर अपने पास रख लिया था और सभी कर्मचारी के चले जाने के बाद लाॅकर से 10,81,194 रूपये को चोरी कर लिया। चोरी की रकम को अपने बड़ी माॅ के यहाॅ छुपाकर रखना एवं लाॅकर की चाॅबी को नदी में फेंक देना बताया। आरोपी सौरभ डहरिया पिता घनश्याम डहरिया उम्र 25 साल निवासी पंडरिया गंड़ई के बताये स्थान से पुलिस ने चोरी की रकम 10,31,990 रूपये एवं पोष्ट आॅफिस से 34,500 रूपये सिक्के के रूप में जप्त किया गया। इस प्रकार आरोपी से कुल 10,66,490 रूपये जप्त करने में सफलता मिली। आरोपी द्वारा बाकी रकम 14,700 रूपये को कटा-फटा व पुराने नोट होने से जला दिया गया था। आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायायिक रिमांड़ हेतु भेजा गया।

उपरोक्त कार्यवाही में क्राईम ब्रांच टीम एवं गंड़ई पुलिस टीम की भूमिका सराहनीय रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *