टिमरनी मे अभिजीत शाह का जनसंपर्क


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


कांग्रेस नज़र आई एकजुट
टिमरनी- 28 नवंबर को होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस द्वारा घोषित प्रत्याशी अभिजीत शाह मकड़ाई के साथ सैंकड़ों कांग्रेसियों द्वारा सोमवार को विधानसभा के ग्राम गोंदागांव में मां नर्मदा तट पर पूजन अर्चन करके चुनाव प्रचार का श्री गणेश किया। जिसमें लगभग दो सैंकड़ा कार्यकर्ताओं के साथ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अरुण जायसवाल, हरिभाऊ गद्रे, लखन सिंह मोर्य, सुभाष जायसवाल, नीलेश अग्रवाल, विजय सूरमा, गंगाराम गुर्जर, युसुफ गौरी सहित ग्रामीण क्षेत्र से अन्य लोग मौजूद रहे। जिन्होनें प्रत्याशी के साथ नगर में पद यात्रा कर सभी व्यापारियों व आम जनता से भेंट कर विजय होने का आशीर्वाद मांगा। नगर में जगह जगह इनका फूल मालाओं से स्वागत किया गया ।
टिमरनी-सिराली विधानसभा सीट पिछले 10 बर्षों से भाजपा के कब्जे में है। क्षेत्रीय जनता अनुसार कॉग्रेस में गुटबाजी होने के कारण ही हार सहना पड़ता रहा है। इस बार भी टिकिट की दावेदारी में तीन नामों के साथ उनके समर्थकों ने भोपाल से लेकर दिल्ली तक दिन रात एक कर दिए थे। उस दौरान गुटबाजी की चर्चा आम सुनाई पड़ रही थी। जिससे भाजपा खेमे में खुशी की लहर दौड़ रही थी। अभिजीत शाह के नाम की घोषणा होने के बाद भी गुटबाजी की फुस फुसाहट पूरे क्षेत्र में चल रही थी। परंतु सोमवार को जन संपर्क पर निकले अभिजीत शाह के साथ दिखाई दिए कांग्रेसियों को देखकर आम जनता में फिर से फुस फुसाहट शुरू हो गई है। जहां तहां सुनने को मिला कि इस बार भाजपा को असली टक्कर मिलेगी। कॉग्रेस से टिकिट की दौड़ में अव्वल रहे अभिजीत शाह का नाम क्षेत्र, प्रदेश व देश के बाहर नेपाल तक चल रही है। क्योंकि अभिजीत भाजपा सरकार के शिक्षा मंत्री विजय शाह व टिमरनी से भाजपा के प्रत्याशी संजय शाह के सगे भतीजे हैं। हर जगह यही चर्चायें चल रही हैं कि चाचा भतीजा में होगी जोरदार टक्कर। यूथ कांग्रेस जिलाध्यक्ष राहुल जायसवाल ने बताया कि हम टिकिट की दौड़ में थे। अभिजीत शाह मेरा छोटा भाई है। कॉग्रेस पूरी एक है। हम कॉग्रेस प्रत्याशी को जिताकर रहेंगे।
*हरदा से मुईन अख्तर खान*