बहराइच सहकारिता मंत्री ने किया परसेण्डी चीनी मिल के पेराई सत्र का शुभारम्भ

बहराइच प्रदेश के सहकारिता मंत्री श्री मुकुट बिहारी वर्मा ने विधायक पयागपुर सुभाष त्रिपाठी व विधायक महसी सुरेश्वर सिंह की उपस्थिति में विधिवत हवन पूजन तथा वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पारले चीनी मिल परसेण्डी के पेराई सत्र 2018-19 का शुभारम्भ किया। श्री वर्मा ने मौके पर मौजूद गणमान्यजनों के साथ फीता काटकर व डांेगे मे गन्ना डालकर पेराई सत्र का शुभारंभ किया।
चीनी मिल के पेराई सत्र के शुभारम्भ अवसर पर आयोजित कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए श्री वर्मा ने कहा कि कृषि प्रधान देश भारत की खुशहाली किसानों की खुशहाली पर निर्भर है। किसानों की तरक्की पर ही देश व प्रदेश की अर्थव्यवस्था निर्भर है। उन्होंने कहा कि पारले चीनी मिल क्षेत्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रही है। इस क्षेत्र के किसानों को समृद्धिशाली बनाने में मिल का अहम योगदान है। श्री वर्मा ने किसानों से अपील की कि उन्नतिशील’ ’प्रजाति का गन्ना पैदा करें जिससे उनकी आय दोगुनी हो सके।
सहकारिता मंत्री ने मिल के जिम्मेदारान का आहवान्ह किया कि क्षेत्र के किसानों की उम्मीदों पर खरा उतरे के लिए सम्पूर्ण मनोयोग के साथ किसान हित को सर्वोपरि रखते हुए अपने उत्तरदायित्वों का निर्वहन करें। उन्होंने किसानों से कहा कि अगैती प्रजाति के गन्ने की बुआई करें जिससे आपको अच्छा उत्पादन तो प्राप्त हो, साथ ही मिल के उत्पादन में भी वृद्धि हो। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी व प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ का सपना है कि वर्ष 2022 तक देश के किसानों की आय दोगुनी हो जाये। उन्होंने चीनी मिल परसेण्डी की व्यवस्थाओं पर प्रसन्नता व्यक्त की।
विधायक पयागपुर सुभाष त्रिपाठी ने कहा कि जनपद बहराइच कृषि आधारित जनपद है। यहाॅ की लगभग 90 प्रतिशत आबादी गाॅवों में बसती है और खेती किसानी पर ही निर्भर करती है। उन्होंने कहा कि जनपद की समृद्धि के लिए आवश्यक है कि जिले के किसान तरक्की करें। उन्होंने किसानों से अपील की कि खेती में वैज्ञानिक विधि को अपनायें ताकि आपकी आय में गुणात्मक इज़ाफा हो सके। विधायक महसी सुरेश्वर सिंह ने भी पेराई सत्र के शुभारंभ अवसर पर मिल प्रबंधतंत्र व किसानों को हार्दिक शुभकामनाएँ देते हुए किसानों से अगैती प्रजाति के गन्ने की बुआई करने की अपील की। कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए चीनी मिल के महाप्रबंधक अनिल सकूजा ने जानकारी दी कि इस वर्ष 75 लाख कुन्तल गन्ने की पेराई का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होंने किसानों से अपील की कि ट्रेंच विधि से गन्ने की बुवाई करें जिससे उत्पादन में भारी वृद्धि हो सके।
इसके पश्चात सहकारिता मंत्री श्री वर्मा ने मिल परिसर मंे तौल काटों का फीता काटकर शुभारंभ किया तथा मिल गेट पर पहुॅची पहली बैलगाड़ी के कृषक सूबेदार सिंह की तौल कर किसान को चादर व शाल ओढ़ा कर सम्मानित भी किया।
इस अवसर पर विधानसभा संयोजक गौरव वर्मा, निशंक त्रिपाठी, सहकारिता मंत्री के पीआरओ कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, गन्ना प्रबंधक जगतार सिंह, कारखाना प्रबंधक अनिल यादव, संजीव राठी, पूर्व प्रमुख मुन्ना सिंह, वहाजुद्दीन, डा.वी.के. श्रीवास्तव, सुबेद वर्मा, मनीष श्रीवास्तव, परमजीत सिंह, राजस्वरूप, सौरभ वर्मा, राजन सिंह, रामेन्द्र चैधरी, लल्लूराम शुक्ला, बाबा राम धीरज सिंह, रवि श्रीवास्तव, आदर्श परमार सहित सैकड़ों की संख्या में किसान मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *