एक्सीडेंट ने नहीं डॉक्टरों की लापरवाही ने ली शादाब की जान


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


कल देर रात नागपुर जबलपुर हाईवे में जिला सिवनी के पास सड़क दुर्घटना में दो बाइक सवारों की मौत हो गई।
इस बाइक में मतीन और शादाब सवार थे।
एक्सीडेंट के वक़्त मतीन की मौके पर ही मौत होगई।
वहीं शदाब की सरकार अस्पताल में।

बताया जा रहा है कि जब शदाब को अस्पताल भर्ती किया गया तो उस वक़्त कोई भी सरकारी डॉ ड्यूटी में उपस्थित नहीं थे।

केवल कंपाउंडर और नर्स ही थे।
जिस की वजह से शदाब को सही समय पर सरकारी उपचार नहीं मिल सकता और उनका दम टूट गया।
आज डॉक्टरों को 60000 से 1 लाख तक की तनख्वाह मिलती है । ताकि वह सही तरीके से अपनी ड्यूटी करें पर जब इस तरह की लापरवाही सामने नज़र आती है तो । बहुत से सवाल मन में उठते हैं ।
जैसे की क्या जनता का टैक्स का पैसा हम इनके क्लीनिक चलाने के लिए देते हैं?
और भी बहुत से विचार मन में आते हैं।
सिवनी में ही कुछ महीने पहले सरकारी डॉक्टर का मरीजों के साथ मारपीट और गाली गलौज का मामला सामने आया था जिसको इंडिया फैक्ट न्यूज़ के द्वारा प्रमुखता से उठाया गया था लेकिन उसका कोई खास कार्यवाही नजर नहीं आई। अब देखना होगा नई सरकार के स्वास्थ्य मंत्री कल की इस घटना पर क्या कार्यवाही करते हैं।

क्योंकि छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव  द्वारा इसी तरह के मामले में एक डॉक्टर कंपाउंडर और नर्स को तत्काल निलंबित कर दिए थे जिसके बाद उनकी काफी सराहना की गई लेकिन इस प्रकार के कड़े निर्देश लेने का ज़ज़्बा मध्यप्रदेश स्वास्थ्य मंत्री में है?

सिवनी से जुनेद सनी के साथ नवेद आज़मी की रिपोर्ट

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *