बहराइच ग्रामीण विकास मंत्रालय के तत्वावधान में आयोजित प्रशिक्षण में सम्मिलित प्रशिक्षणार्थियों को डीएम ने वितरित की सामग्री


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।




बहराइच  दीन दयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल्य योजना के प्रशिक्षण संस्थान, शान्ती यादव कालेज, झ्ािंगहा घाट, नानपारा बस स्टैंड, बहराइच में आयोजित थारू सांस्कृतिक कार्यक्रम तथा प्रशिक्षण सामग्री वितरण समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्य अथिति जिलाधिकारी माला श्रीवास्तव ने कहा कि ऐसे आयोजनों से लोगों का कौशल दक्षता की ओर प्रेरित करने में मदद मिलेगी। जिलाधिकारी ने कहा कि आज का समय मात्र शिक्षा प्राप्त करने का नहीं है, आज अगर हमें रोज़गार चाहिए तो हमें शिक्षा के साथ कौशल में भी दक्ष होना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सपना है कि देश के नौजवान हुनरमन्द होकर स्वयं के साथ-साथ दूसरों के लिए रोज़गार के अवसर पैदा करें। उन्होंने कहा कि देश के युवाओं को दक्ष बनाने के लिए ग्रामीण विकास मंत्रालय के तत्वावधान में रामा इन्फोटेक प्राईवेट लिमिटेड द्वारा प्रशिक्षणार्थियों को टैबलेट, ड्रेस एवं पाठ्य-सामग्री का वितरण किया गया है। जिलाधिकारी ने सफल आयोजन के लिए मुख्य विकास अधिकारी राहुल पाण्डेय व केन्द्र प्रमुख क्षितिज दीक्षित के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि आयोजन के देखने मात्र से आभास होता है कि सभी सम्बन्धित द्वारा दिल से प्रयास किये गये हैं। उन्होंने कहा कि प्रायः सरकारी काम में ऐसी प्रतिबद्धता कम ही दिखाई देते है। लोग अपने उत्तरदायित्वों का मात्र रस्मी अंदाज़ में निर्वहन करते हैं, लेकिन सफलता उसी को मिलती है जो दिल से प्रयास करते हैं। उन्होंने सभी प्रक्षिणार्थियों का आहवान्ह किया कि जिस भी क्षेत्र में जायें अपने लिए बड़ा लक्ष्य तो निर्धारित की करें साथ ही साथ प्रयासों में भी कोई कमी न छोड़ें। उन्होंने कहा कि मुझे अपार प्रसन्न्ता होगी यदि मेरे सम्मुख बैठे लोगों में कोई व्यक्ति सफल होने के बाद मुझसे और सीडीओ साहब से आकर मुलाकात करे। थारू सांस्कृतिक कार्यक्रम से प्रभावित होकर जिलाधिकारी ने कहा कि प्रथमबार उनका इस प्रकार से थारू जनजाति से परिचय हो रहा है। उन्होंने कहा कि यदि मैं आज यहाॅ पर नहीं आती तो मैं बहुत कुछ देखने से वंचित रह जाती। कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी ने मौजूद प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण सामग्री तथा कार्यक्रम के शुभारम्भ अवसर पर रक्तदान करने वाले 10 व्यक्त्यिों को प्रमाण-पत्र का वितरण भी किया। कार्यक्रम के अन्त में केन्द्र प्रमुख क्षितिज दीक्षित ने बताया कि प्रशिक्षण स्थल शान्ती यादव कालेज में 210 बच्चों के लिए आवासीय प्रशिक्षण की व्यवस्था है। जिसमें 140 बालक तथा 70 बालिकाओं के रहने के माकूल बन्दोबस्त हैं। यहाॅ पर सभी प्रशिक्षणार्थियों को सभी प्रकार की सुविधाएं निःशुल्क प्रदान की जा रही हैं। इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी, आईटीआई कैसरगंज के प्रधानाचार्य अनिल कुमार त्रिपाठी, उपायुक्त उद्योग मोहन कुमार शर्मा व डीपीएमयू खजांची लाल सहित बड़ी संख्या में प्रशिक्षणार्थी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *