अलीगढ़ इण्डिया फैक्ट न्यूज़

पुलिस द्वारा स्वयंसेवक का चालान करने पर बारहद्वारी बाजार बंद


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


जाम खुलवाने से उपजे विवाद के बाद बंद रहा बारहद्वारी का बाजार छाया सुनील कुमार

जाम खुलवाने के दौरान उपजे विवाद में पुलिस पर लगे स्वयंसेवक की पिटाई के आरोप

अलीगढ़ ब्यूरो ,आजकल शहर के प्रमुख बाजार बारहद्वारी पर प्रतिदिन जाम की समस्या रहती है,इन दिनों होली के त्योहार के चलते और भी ज्यादा हालात खराब हें , सुबह से रात तक जाम लगा रहता है लेकिन बारहद्वारी पर जाम खुलवाने में कोई पुलिसकर्मी या यातायात का सिपाही रूचि नहीं लेता है|हर समय जाम लगने से बाजार की दुकानों का कारोबार प्रभावित होता है, इसी वजह से बाजार के ही कुछ दुकानदार यातायात बाधित न हो इसके लिये यातायात पुलिस की मदद करते हुए बाजार से जाम खुलवाते हैं,मिली जानकारी के अनुसार कल बारहद्वारी पर आर एस एस, शिवाजी शाखा के स्वयंसेवक अशोक प्रतिदिन की तरह जाम खुलवा रहे थे तभी जाम में फंसे एक व्यक्ति ने अपनी मोटर साइकिल गलत तरीके से निकालने की कोशिश की, इतने में ट्रेफिक में फंस रहे लोगों में से तीन चार लोग आये और जो गलत तरीके से गाडी निकाल रहे व्यक्ति को पीट दिया।पीटा गया व्यक्ति दमकल विभाग का पुलिसकर्मी था बाद में उसने स्वयंसेवक अशोक पर मारपीट का आरोप लगा कर थाने में शिकायत की जिस पर पुलिस ने कल शाम को विधायक आवास के निकट स्वयंसेवक को हिरासत में लेकर थाना बन्नादेवी में बंद करा दिया।जिसके विरोध में बारहद्वारी के व्यापारियों ने आज बाजार बंद कर दिया।विधायक के फोन के बाद भी थानेदार ने शांति भंग में चालान काट दिया।आखिर योगी सरकार में ही स्वयंसेवकों के हालात इतने बुरे क्यों हैं?आपको याद दिला दें कि इन्ही थानेदार की हुकूमत में सासनीगेट थाने के अंदर पुलिसकर्मियों ने संघ नेता और शहर विधायक के बहनोई को पीटा था ।  इनपुट तपन शर्मा

tapan sharma

musian,journlist and social worker