बहराइच 128वीं जयन्ती पर याद किये गये बाबा साहब डा. भीमराव अम्बेडकर


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


बहराइच बाबा साहब डा. भीमराव रामजी आम्बेडकर की 128वीं जयन्ती के अवसर पर कलेक्टेªट सभागार में आयोजित कार्यक्रम के दौरान जिलाधिकारी शम्भु कुमार, मुख्य राजस्व अधिकारी प्रदीप कुमार यादव, नगर मजिस्ट्रेट जय प्रकाश, कलेक्ट्रेट व कलेक्ट्रेट परिसर स्थित अन्य कार्यालयों के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने बाबा साहब डा. भीम राव अम्बेडकर के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया। अम्बेडकर जयन्ती के अवसर पर कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित कार्यक्रम को समबोधित करते हुए जिलाधिकारी श्री कुमार ने कहा कि न्याय, बन्धुता, समता और स्वतन्त्रता से युुक्त समाज की स्थापना करना बाबा साहब का सपना था, जिसे पूरा करना हम सब की जिम्मेदारी है। श्री कुमार ने कहा कि बाबा साहब सामाजिक असमानता एवं समाज में व्याप्त कुरीतियों के विरूद्ध जीवन पर्यन्त संघर्ष करते रहें। भारतीय समाज में फैले जिस ऊॅच-नीच व भेद-भाव का सहारा लेकर अंग्रेज़ बरसों तक हम पर हुकूमत करते रहे, उसी ऊॅच व गैर बराबरी को समाप्त करने के लिए बाबा साहब ने अपने जीवन का मकसद बना लिया।जिलाधिकारी ने कहा कि जहाॅ तक संविधान का प्रश्न है, बाबा साहब ने कई देशों के संविधान का अध्ययन कर भारत के लिए सर्वश्रेष्ठ संविधान तैयार किया। उन्होंने कहा कि बाबा साहब द्वारा तैयार किया गया संविधान हमेशा प्रासांगिक रहा है और रहेगा। श्री कुमार ने कहा कि आज लगभग सभी देशों के पास अपना-अपना संविधान है परन्तु किसी के पास भारत जैसा संविधान नहीं है। उन्होंने कहा कि बाबा साहब के नेतृत्व में ड्राफ्टिंग कमेटी द्वारा सूझ-बूझ के साथ तैयार किये गये संविधान में सभी नागरिकों को समान अधिकार प्रदान किये गये। श्री कुमार ने कहा कि भारतीय संविधान की प्रस्तावना में प्रयुक्त होने वाला एक-एक शब्द मानों गागर में सागर समोये हुए है।श्री कुमार ने कहा कि भारतीय संविधान की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि सम्पूर्ण विश्व का सर्वश्रेष्ठ लोकतन्त्र दिया है। हमारे संविधान की एक खूबी यह भी है कि इसके द्वारा जहाॅ मौलिक अधिकार प्रदान किये गये वहीं दूसरी ओर हमारे लिए कुछ कर्तव्यों का भी निर्धारण किया गया है। उन्हीं कर्तव्यों में एक कर्तव्य मतदान भी है। उन्होंने लोगों से अपील की कि आगामी 06 मई को हम सब मिलकर बिना किसी प्रलोभन, भय और लालच के अपने मताधिकार का प्रयोग करें। श्री कुमार सभी लोगों को अम्बेडकर जयन्ती की बधाई देते हुए आहवान्ह किया कि हम सभी लोग बाबा साहब के सिद्धान्तों पर चलने का संकल्प लें, यहीं उनके प्रति हमारी सच्ची श्रद्वांजलि होगी। कार्यक्रम को मुख्य राजस्व अधिकारी प्रदीप कुमार यादव, नगर मजिस्ट्रेट जय प्रकाश व कलेक्ट्रेट कर्मी बी.डी. सिंह ने भी सम्बोधित करते हुए बाबा साहब के व्यक्तित्व एवं कृतत्व पर प्रकाश डाला। कार्यक्रम का संचालन कलेक्ट्रेट कर्मी गुलाम अली शाह ने किया।इसी प्रकार विकास भवन सभागार में आयोजित अम्बेडकर जयन्ती समारोह के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चैहान, जिल विकास अधिकारी राजेश कुमार मिश्र, उपायुक्त मनरेगा शेषमणि सिंह, जिला पंचायत राज अधिकारी के.बी. वर्मा, ए.आर. को-आपरेटिव नवीन चन्द्र शुक्ला, सी.डी.पी.ओ. चित्तौरा शिवकरन सैनी सहित अन्य अधिकारी व कर्मचारी संजय मिश्रा, फिरोज़ ईसा सिद्दीकी, राज कुमार श्रीवास्तव, दुर्गेश कुमार, संजय श्रीवास्तव, राम चन्द्र, विनय मिश्रा, अशोक त्रिपाठी व करूणेष कुमार शुक्ला ने बाबा साहब डा. भीम राव अम्बेडकर के चित्र पर माल्यार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित किया।कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चैहान, उपायुक्त मनरेगा शेषमणि सिंह, डीपीआरओ के.बी. वर्मा, सीडीपीओ शिव सरन सैनी व फिरोज़ ईसा सिद्दीकी ने बाबा साहब के व्यक्तित्व व कृतत्व पर प्रकाश डालते हुए अपने जीवन में उनके विचारों को आत्मसात करने पर बल दिया।