बहराइच विकास भवन सभागार में आयोजित हुई दिव्यांग मित्र/सहायक मास्टर ट्रेनर प्रशिक्षण कार्यशाला


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


बहराइच लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2019 हेतु 06 मई 2019 को होने वाले मतदान में 80 प्रतिशत मतदान के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए जिलाधिकारी शम्भु कुमार के नेतृत्व में जिला प्रशासन की ओर से हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। मतदान प्रतिशत में गुणात्मक वृद्धि के लिए जहाॅ एक ओर मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचक सहभागिता (स्वीप) कार्यक्रम अन्तर्गत बूथ स्तर से लेकर ब्लाक, तहसील एवं जिला मुख्यालय तक विविध जन-जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कर जनपदवासियों से अनिवार्य मतदान करने की अपील की जा रही है वहीं दूसरी ओर मतदान के बढ़ोत्तरी के लिए सभी मतदान केन्द्रों में आयोग के निर्देशानुसार मूलभूत सुविधाओं के बन्दोबस्त के साथ प्रत्येेक विधान सभा निर्वाचन क्षेत्रों के 100-100 कुल 700 मतदान केन्द्रों को आदर्श मतदान केन्द्र के रूप में विकसित किया जा रहा है।जनपद के मतदाताओं को जागरूक करने के उद्देश्य से माॅडल मतदान केन्द्र के रूप में चिन्हित सभी मतदान केन्द्रों के प्रवेश द्वार पर सुन्दर एवं आकर्षक स्वागत द्वार बनाया जायेगा। स्वागत द्वार को मतदाता जागरूकता सन्देश से सम्बन्धित फ्लेक्स, स्टैण्डी व गुब्बारों इत्यादि से सजाया जायेगा। स्वागत द्वार से मतदान कक्ष तक मतदाताओं के लिए रेड कार्पेट बिछायी जायेगी ताकि वहाॅ का माहौल उत्सव जैसा लगे। माॅडल मतदान केन्द्र परिसर में टेन्ट लगाकर सहायता बूथ स्थल बनाया जायेगा। यहाॅ पर वृद्ध, दिव्यांग मतदाताओं के बैठने के लिए कुर्सियों का भी प्रबन्ध होगा। इसी सहायता बूथ पर दिव्यांग व युवा मतदाता मित्र, बीएलओ, एन.एस.एस., एन.सी.सी. व स्काउट के दो-दो बच्चे वालिन्टियर के रूप में मौजूद रहेंगे। सहायता बूथ पर शुद्ध पेयजल का भी प्रबन्ध किया जायेगा।जनपद के सभी मतदान केन्द्रों पर स्थापित होने वाले सहायता बूथों पर दिव्यांग, वृद्ध, गर्भवती महिलाओं व अन्य कमजोर मतदाताओं के सहायता के लिए नियुक्त किए गये दिव्यांग मतदाता मित्रों आशा, आॅगनबाड़ी कार्यकत्री, सुपरवाईज़र्स, स्वेच्छागृही, डीसीपीएम, सीडीपीओ इत्यादि के लिये विकास भवन सभागार में आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने कहा कि 80 प्रतिशत मतदान के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए सभी लोगों को टीम भावना के साथ कार्य करना होगा। उन्होने कहा कि घर-घर मतदाताओं को प्रेरित करने के दौरान दिव्यांग मतदाता, पर्दे में रहने वाली महिलाओं, बाहर रहने वाले मतदाताओं आदि का चिन्हीकरण कर सूची तैयार करने के साथ-साथ ऐसे लोगों को मतदान के लिए विशेष रूप से प्रेरित करेंगे। उत्कृष्ट कार्य करने वाले दिव्यांग मतदाता मित्रों को सम्मानित किया जायेगा। मतदाता जागरूकता के दौरान सभी परिवारों से मतदाता शपथ भरवाये जाए। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिया कि सीडीपीओ व डीसीपीएम द्वारा सभी दिव्यांग मतदाता मित्रों को ब्लाक स्तर पर विधिवत प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि वैसे तो सम्पूर्ण जनपद में मतदाता जागरूकता कार्यक्रमों केे माध्यम से लोगों के बीच मतदान की अलख जगायी जा रही है। लेकिन आमजन के बीच रोज़ उपस्थित रहकर उनके ही बीच कार्य करने वाले ग्राम व ब्लाक स्तरीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों की बात ही अलग है। श्री कुमार ने बैठक में मौजूद सभी ग्राम व ब्लाक स्तरीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों का आहवान्ह किया कि डोर-टू-डोर जाकर लोगों को शत-प्रतिशत मतदान के लिए प्रेरित करें। जिलाधिकारी ने आशा व आॅगनबाड़ी कार्यकत्रियों का आहवान्ह किया कि अधिक से अधिक महिलाओं को मतदान के लिए प्रेरित करें ताकि लोकतऩ्त्र के महापर्व में आधी आबादी की सशक्त भागीदारी सुनिश्चित की जा सके।मतदान में शत-प्रतिशत दिव्यांग मतदाताओं की सहभागिता सुनिश्चित कराये जाने के उद्देश्य से सभी सम्बन्धित को निर्देश दिया गया कि पूर्व में ही कार्ययोजना तैयार कर लें। दिव्यांग मतदाता से सम्पर्क कर उसका मोबाइल प्राप्त कर यह देख लें कि उसके पास ईपिक उपलब्ध है या नहीं। यदि नहीं है तो आयोग द्वारा निर्धारित विकल्पों से सम्बन्धित दस्तावेज़ों की जानकारी उपलब्ध करायी जाय। मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चैहान व अन्य अधिकारियों ने भी बैठक को सम्बोधित करते हुए मौजूद अधिकारियों एवं कर्मचारियों को महत्वपूर्ण सुझाव दिये।इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी राजेश कुमार मिश्र, परियोजना निदेशक डीआरडीए अनिल कुमार सिंह, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी एस.के. तिवारी, जिला दिव्यांग जन सशक्तिकरण अधिकारी ए.के गौतम, जिला पंचायत राज अधिकारी के.बी. वर्मा व अन्य अधिकारी मौजूद रहे।