बहराइच डीएम की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई विकास कार्य समीक्षा बैठक


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


बहराइच  विकास कार्यो की कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित समीक्षा बैठक के दौरान जिलाधिकारी शम्भु कुमार ने खनन निरीक्षक को निर्देश दिया कि तहसील व पुलिस के सहयोग से जनपद में अवैध खनन पर प्रभावी अंकुश के लिए नियमित प्रभावी प्रवर्तन कार्यवाही की जाए। जहां पर शिकायते प्राप्त हो वहां पर अनिवार्य रूप से बार-बार प्रवर्तन की कार्यवाही की जाए। यदि कहीं पर अवैध खनन के मामले पाये जाये तो सम्बन्धित के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाए।
स्वच्छ भारत मिशन की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने पाया कि जीओ टेगिंग के सापेक्ष भौतिक प्रगति संतोष जनक नही है इस सम्बंध में उन्होने डीपीआरओ को अपेक्षित प्रगति लाने का निर्देश दिया। अस्थाई गौ आश्रय स्थल संचालन की समीक्षा करते हुए मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये गये कि गौ आश्रय स्थल पर शासन द्वारा निर्धारित सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जाए। रखे गये पशुओं की चारा, पानी आदि की किसी प्रकार कोई समस्या न रहे साथ ही गौ आश्रय स्थल की व्यवस्था पर प्रतिदिन होने वाले व्यय आदि की भी समीक्षा करते रहे।
स्वास्थ्य योजनाओं कार्यक्रमों की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी श्री कुमार ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिए कि आयुष्मान भारत योजना में लगे सभी अधिकारी/कर्मचारी (संविदा कार्मिको को छोड़कर) का वेतन जब तक आहरित न किया जाए जब तक योजना में आपेक्षित प्रगति नही आती है। इस सम्बंध में उन्होने जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिया कि सभी ग्राम पंचायतों में ग्रामवार योजना के सभी लाभार्थियों का नाम, गोल्डेन कार्ड नम्बर, योजना की पात्रता आदि की वाल रायटिंग करायें। ट्रांसफार्मर विस्थापन कार्य एवं रोस्टर के अनुसार विद्युत आपूर्ति की समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने अधीक्षण अभियन्ता विद्युत को निर्देश दिया कि विभाग द्वारा जो भी कैम्प आयोजित किए जाए उसका व्यापक प्रचार-प्रसार कराया जाए साथ ही सम्बन्धित उपजिलाधिकारियों व खण्ड विकास अधिकारियों को भी कैम्प आयेाजन के तिथियों की जानकारी दी जाए ताकि अधिक से अधिक लोग कैम्प के आयोजन का लाभ उठा सके।
रेशम विभाग के योजनाओं की समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी श्री कुमार ने सहायक निदेशक रेशम को निर्देश दिया कि विभाग की योजनाओं से राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत गठित अधिक से अधिक समूहों की विभागीय योजनाओं से जोड़ा जाए। इस सम्ब्ंाध में उपायुक्त एनआरएलएम को भी आवश्यक दिशा निर्देश दिए गये। इसके अलावा बैठक में प्रधानमंत्री आवास योजना मुख्यमंत्री मंत्री सामूहिक विवाह योजना, सभी प्रकार की पेंशन व छात्रवृत्ति योजनाएं, पेयजल परियोजनाएं, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, सड़क निर्माण, किसान सम्मान निधि, फसल बीमा योजना, खाद बीज की उपलब्धता, गन्ना भुगतान, पोषण अभियान, नककूप संचालन, नहरों का टेल तक पानी पहुचाना, उद्योग, बेसिक शिक्षा विभाग की योजनाएं, सुमंगला योजना सहित अन्य योजनाओं एवं कार्यक्रमों की समीक्षा के साथ-साथ 50 लाख रू से अधिक लगत की परियोजनाओं के अध्ततन प्रगति की भी समीक्षा के दौरान सम्बन्धित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गये।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी राम सुरेश वर्मा,  जिला विकास अधिकारी राजेश कुमार मिश्रा, पीडी अनिल कुमार सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. बलवन्त सिंह, डीसी एनआरएलएम सुरेन्द्र कुमार गुप्ता, उपनिदेशक कृषि डा. आर.के. सिंह, बीएसए एस.के. तिवारी, डीएसओ राकेश कुमार सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।