ABVP का उग्र प्रदर्शन कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


बारिश होने के बावजूद नहीं रूके छात्रनेता, 2 घंटे तक अपनी मांगों को लेकर डटे रहे
	राजनांदगंाव। आज एबीविपी द्वारा दिग्विजय महाविद्यालय के तीन सूत्रिय मांगों को लेकर ऐतिहासिक प्रदर्शन करते हुए पहले कॉलेज के बाहर प्रदर्शन किया एवं किसी भी प्रशासनिक अधिकारी द्वारा ज्ञापन लेने समय पर नहंी पहुंचने पर कलेक्टोरेट की ओर रैली के रूप में कूच किया गया एवं कलेक्टोरेट पहुचन पर जोरदार नारेबाजी के साथ कलेक्टोरेट का घेराव किया गया, जहां कलेक्टोरेट प्रशासन के हाथ पाव फूले हुए थे वही छात्रनेता अपने जिद पर अडे रहे की ज्ञापन कलेक्टर को आकर लेना पड़ेगा, अंत में बीच का रास्ता निकालकर 12 लोगों की प्रतिनिधिमंडल का प्रस्ताव प्रशासन द्वारा दिया गया, जिस पर छात्रनेता राजी हुए। जिस पर कलेक्टर के समक्ष तीनो मांगों को रखा गया जिसमें दिग्विजय महाविद्यालय मे 96 प्रोफेसरों में 56 नियमित प्रोफेसर कार्यरत थे, जिसमें से भी 4 प्रोफेसरो का ट्रांसफर कर दिया गया, जिससे छात्रों की पढ़ाई बाधित हो रही है। इसी के साथ दूसरी मांग यह है कि दिग्जिवजय महाविद्यालय जिले का सबसे बड़ा महाविद्यालय है जिसमें जिले के दूर - दराज गाँवो से छात्र - छात्राएँ मानपूर औंधी जैसे स्थानो से सभी आते है जिसके लिए छात्रावास का सुविधा नहीं है अत: छात्रावास का निर्माण कार्य 2 वर्ष पूर्ण होने के बाद भी पूरी नहीं हो पायी है एवं नई सरकार बनने के बाद काम रूका हुआ है।
	इसी के साथ ही तीसरी मांग यह है कि बी.पी.एल. छात्रवृत्ति प्रति वर्ष मई जून माह में आ जाती थी पर इस वर्ष बी.पी.एल. छात्रवृत्ति अब तक नहीं आई छात्रवृत्ति से हर वर्ष आधे से ज्यादा गरीब छात्र - छात्राऐ अपना प्रवेश शुल्क भरते है अत: शासन के द्वारा छात्रों को जल्दी से जल्द छात्रवृत्ति दी जाए। इन तीनों मांगों को पूर्ण करने के लिए कलेक्टर महोदय को 15 दिनों का समय दिया गया 15 दिनों के भीतर निराकरण नहीं हुआ तो एबीवीपी उग्र आंदोलन को बाध्य होगी। 
	प्रदर्शन के दौरान मुख्य रूप से झारखण्ड एवं छ.ग. प्रदेश के जनजाति प्रमुख प्रमोद रावत, विभाग छात्रावास प्रमुख शिवम यादव, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य आदित्य पराते, जिला विद्यार्थी विस्तारक गौरव सिंह, जिला छात्रा प्रमुख गितिका सोनकर, नगर मंत्री मेहुल जाटव, नगर सहमंत्री शुभम देवांगन, कमलेश प्रजापति, नगर छात्रा सह प्रमुख धान्या वर्मा, यामिनी बिसेन, एस.एफ.डी. प्रमुख - प्रज्जवल गुप्ता, जिला तकनीकी प्रमुख मयंक शर्मा, राष्ट्रीय कलामंच प्रमुख कुंदन राजपूत, नगर विद्यालय प्रमुख विकास साहू, एन.एस.एस. प्रमुख दामन कुमार, नगर एस एफ डी सह प्रमुख संतोष, त्रिशिका साहू, पूनिमा साहू, राष्ट्रीय कला मंच सह प्रमुख सिद्धार्थ वैष्णव, विकास साहू, पूनम साहू, प्रकाश देवांगन, गोविद साहू, चिन्टू सोनकर, ,राजकुमार सार्वा , शशि साहू, शुभम प्रजापति सहित हजारों की संख्या में छात्र - छात्राएं उपस्थित थे। उक्त जानकारी आदित्य पराते द्वारा दी गईै।