बहराइच जिला चिकित्सालय व सीएचसी सेन्टर पर आशाओं के लिए निर्मित होंगे वेटिंग हाल/रेस्ट हाउस


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


वाप्कोस लिमिटेड द्वारा स्वीकृत की गयी 1.125 करोड़ की धनराशि
बहराइच महिला एवं बाल स्वास्थ्य के लिए संचालित योजनाओं एवं कार्यक्रमों में बेहतरी लाने के उद्देश्य से आकांक्षात्मक जनपद बहराइच के जिला चिकित्सालय व समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर आशा वेटिंग हाल/रेस्ट हाउस का निर्माण किया जायेगा। इसके लिए भारत सरकार का उपक्रम जन शक्ति मंत्रालय के अधीन वाप्कोस लिमिटेड द्वारा 01 करोड़ 12 लाख 50 हज़ार रूपये धनराशि स्वीकृत की गयी है। जिला चिकित्सालय व सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर आशा वेटिंग हाल/रेस्ट हाउस का निर्माण किये जाने के उद्देश्य से जिला प्रशासन की ओर से जिलाधिकारी शम्भु कुमार एवं वाप्कोस लिमिटेड की ओर से चीफ कारपोरेट प्लानिंग, सी.पी. अरोड़ा द्वारा एम.ओ.यू. पर हस्ताक्षर किये गये। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक डाॅ. गौरव ग्रोवर, मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चैहान, डी.टी.एम. डाॅ. पीयूष नायक मौजूद रहे।
उल्लेखनीय है कि जिला चिकित्सालय व समस्त सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर आशा वेटिंग हाल/रेस्ट हाउस के निर्माण से मातृ-शिशु से सम्बन्धित स्वास्थ्य सेवाओं में अपेक्षित सुधार आयेगा साथ ही शासन की मंशानुरूप स्वास्थ्य सेवाओं को धरातल पर क्रियान्वित करने में बड़ी मदद मिलेगी। आशा वेटिंग हाल/रेस्ट हाऊसों के निर्माण से संस्थागत प्रसव के लिए आने वाली महिलाएं तय मुद्दत तक चिकित्सालय व स्वास्थ्य केन्द्रों पर रूक सकेंगी क्योंकि उनके साथ आने वाली आशा भी रेस्ट हाउसों में ठहर कर धात्री महिलाओं की अच्छी तरह से देख-भाल कर सकेंगी। जिससे निश्चित तौर मातृ-शिशु मृत्यु दर में भी कमी आयेगी।