बहराइच कोहरे में ट्रालियों से होने वाली दुर्घटनाओं के प्रति जिला प्रशासन सख्त


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


बहराइच  कोहरे में ट्रालियों से होने वाली दुर्घटनाओं पर प्रभावी अंकुश के लिए जिला प्रशासन कटिबद्ध है। शुक्रवार को देर शाम कलेक्ट्रेट सभागार में आयोजित सड़क सुरक्षा से सम्बन्धित बैठक की अध्यक्षता करते हुए मुख्य विकास अधिकारी अरविन्द चैहान ने निर्देश दिया कि खनन व ईंट भट्ठा कार्य से जुड़े हुए समस्त ट्रैक्टर-ट्रालियों के रजिस्ट्रेशन, फिटनेस व रिफ्लेक्टर की जाॅच के लिए अभियान संचालित कर प्रवर्तन की कार्यवाही की जाये। श्री चैहान ने निर्देश दिया कि प्रवर्तन की कार्यवाही में रजिस्ट्रेशन, फिटनेस व रिफ्लेक्टर इत्यादि में कमी पाये जाने पर नियमानुसार कार्यवाही की जाय।
सीडीओ श्री चैहान ने गन्ना पेराई सत्र 2019 को दृष्टिगत रखते हुए समस्त गन्ना मिल प्रबन्धकों को निर्देश दिया है कि कोहरे की स्थिति में कोई भी खराब ट्रैक्टर-ट्राली सड़कों पर न रहने पायें। गन्ना परिवहन कार्य में लगे हुए सभी ट्रैक्टर-ट्रालियों पर रिफ्लेक्टर होना सुनिश्चित किया जाय। इसके अलावा मिल अन्तर्गत संचालित होने वाले सभी ट्रैक्टर-ट्रालियों का अभिलेख रखा जाये तथा ट्रालियों पर ड्राइवर का लाइसेंस नम्बर व नाम अंकित किया जाय। इन आदेशों की अवहेलना करने वाले वाहनों का मिल में प्रतिबन्धित किया जाये। श्री चैहान ने जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिया कि खाद्यान्न की ढुलाई करने वाले ट्रैक्टर-ट्रालियों में भी रजिस्ट्रेशन, फिटनेस व रिफ्लेक्टर की कार्यवाही सुनिश्चित करायी जाये।
इस अवसर पर सहायक सम्भागीय परिवहन अधिकारी प्रशासन अशोक कुमार व प्रवर्तन के वीरेन्द्र सिंह सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारी, चीनी मिलों के प्रबन्धक, ईंट भट्ठा संगठन के पदाधिकारी व सेफ लाईफ संस्था के प्रतिनिधि मौजूद रहे।