अलीगढ़ निवासी वैज्ञानिक ने आस्ट्रेलिया में की एटोमिक वार प्रबंध की चर्चा


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


अलीगड के मूल निवासी एवं न्यूक्लियर ट्रेक सोसायटी आफ इंडिया के महासचिव डाक्टर राजेश कुमार शर्मा जो वर्तमान में गुरु नानक देव इन्द्रप्रथ यूनिवर्सिटी नई दिल्ली में फिजिक्स विभाग में कार्यरत हें ने एडवांसड मटैरियल्स पर नाभिकीय किरण के पड़ने वाले प्रभाव पर आस्ट्रेलिया के सिडनी शहर में आयोजित हुए विश्व विज्ञान सम्मेलन मे अपना शोध व्याख्यान दिया एवं विशव वैज्ञानिक समुदाय से परमाणु हथियार वाले युद्ध मे रक्षा के उपाय बताते हुए ग्लोबल सपोर्ट की मांग की । डॉक्टर राजेश ने एटौमिक वार सुरक्षा हेत अन्तराष्ट्रीय संस्था एनटीई के अध्यक्ष डाक्टर आर पी चौहान व डाक्टर आर स्वरूप ,डाक्टर आर पाद आदि वैज्ञानिकौ द्वारा विश्व के 50 देशो में भारत की न्यूक्लियर ट्रैक सोसाइटी द्वारा,न्यूक्लीयर वार को निष्प्रभावी करने के वैज्ञानिक समाधान से भी विश्व वैज्ञानिकों को अवगत कराया । जिसे डॉ स्वरुप एवं इनकी टीम के द्वारा देश के प्रधानमन्त्री व राष्ट्रपति को भी भेजा जा चुका हें|



आवश्यकता है पत्रकारों की संपादक नवेद आज़मी 09098350946

tapan sharma

musian,journlist and social worker