जनता कर्फ्यू में देखें मुम्बई का नजारा, सड़कें और मुहल्ले हुए वीरान, बंद को मिला समर्थन


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।



मुम्बई: महानगर मुम्बई में रविवार को जनता कर्फ्यू को पब्लिक का पूरा सपोर्ट मिला। सुबह से ही लोग घरों के अंदर बंद रहे। सड़कें वीरान रहीं और अंधेरी बेस्ट में भी सन्नाटा रहा। मुम्बई के गेट आफ इंडिया गेट पर जहां हर रोज हजारों लोग गुजरते हैं वहां आज एक परिंदा भी पर नहीं मार रहा था। एस व्ही रोड़ पर पसरा सन्नाटा, वाहनों की आवाजाही बंद होने से सूनी हुई सड़कें। संडे को हमेशा गुलजार रहने वाला सागरसिटी पार्क सूना हुआ। सीएसटी स्टेशन पर जहां रोज हजारों लोगों की आवाजाही होती है बंदी की वजह से छाया सन्नाटा। अंधेरी रेलवे स्टेशन पर अधिकारी सैनिटाइजेशन का काम करवाते नजर आए। मुम्बई मेट्रो घाटकोपर का मैन गेट भी बंद रहा। आस्कर पब्लिक स्कूल एरिया भी स्कूलों की छुट्टी की वजह से हुआ वीरान, आर्मी मैन मुस्तैद नजर आए। बंद के दौरान डीएम मुम्बई महानगर के अधिकारियों के साथ मुम्बई में सफाई व्यवस्था का जायजा लेते रहे।कोरोनावायरस से मुंबई में एक ६३ वर्षीय मरीज की मौत
बता दें कि भारत में कोरोनावायरस संक्रमण के 60 से ज्यादा नए मामले सामने आने के साथ यह संख्या बढ़कर 324 हो गई है। आज मुंबई के एक प्राईवेट अस्पताल में एक और मरीज की मौत हो गई। वह 63साल का था और कई बीमारियों से ग्रसित था। वह शनिवार रात 11 के आसपास दम तोड़ दिया।
जनता कर्फ्यू के दौरान दादर का सुनसान हाइवे
गौरतलब है कि इसकी रोकथाम के लिए आज सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक जनता कर्फ्यू (Janta Curfew) का भी आह्वान किया गया है। उधर, कोरोनावायरस से इस वक्त सबसे ज्यादा पीड़ित इटली में फंसे 263 भारतीयों को आज वतन वापस लाया गया। इटली से लाए गए 263 यात्रियों को थर्मल स्क्रीनिंग के बाद छावला के ITBP क्वैरंटाइन कैंप ले जाया जाएगा।
जनता कर्फ्यू के दौरान सायन का सुनसान हाइवे
कभी न सोने और कभी न रुकने के लिए जानी जाने वाली मायानगरी मुंबई की सड़कें रविवार सुबह ‘जनता कर्फ्यू’ के मद्देनजर वीरान नज़र आ रहीं हैं और सार्वजनिक स्थलों पर सन्नाटा पसरा है। मुंबई का सीएसटीएम, दादर, सायन, घाटकोपर सहित कई अन्य सड़कों पर आमतौर पर भारी यातायात देखने को मिलता है लेकिन कर्फ्यू को समर्थन देने के लिए लोग आज अपने घरों में ही हैं। कई अन्य रेलवे स्टेशनों पर भी इसी प्रकार की स्थिति है जहां क्षमता से अधिक भीड़ वाली ट्रेनों में चढ़ने के लिए अमूमन हजारों यात्री मौजूद रहते हैं। मुंबई पुलिस भी लोगों को घर के अंदर रहने की सलाह दे रही।

मुम्बई से मुईन अख्तर खान की रिपोर्ट



आवश्यकता है पत्रकारों की संपादक नवेद आज़मी 09098350946