कोरोना के संक्रमण को रोकने तथा नियंत्रित करने के लिए पूरे जिले में 31 मार्च तक कफ्र्यू कलेक्टर श्री मौर्य ने जारी किया आदेश!!


Advertisement

http://indiafactnews.co.in पोर्टल में पब्लिश न्यूज़ की जिम्मेदारी स्वयं संवादाता की होगी। इसके लिए एडिटर जिम्मेदार नहीं होगा नहीं न्यूज़ पब्लिश करने के लिए एडिटर की अनुमति आवश्यक है।


राजनांदगांव 22 मार्च 2020: कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री जयप्रकाश मौर्य ने कोरोना (कोविड-19) के विश्व व्यापी संक्रमण को देखते हुए कोरोना के संक्रमण को रोकने तथा नियंत्रित करने के लिए जनहित में दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा-144, एपेडेमिक एक्ट-1897, आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 की धाराओं में प्रदत्त की गई शक्तियों का प्रयोग करते हुए निषेधाज्ञा जारी किया है।
कलेक्टर श्री मौर्य ने राजनांदगांव जिले में 22 मार्च 2020 की रात्रि 9 बजे से 31 मार्च 2020 के मध्य रात्रि तक कफ्र्यू घोषित किया है। यह कफ्र्यू जिले के सभी नगरीय निकायों तथा ग्राम पंचायतों में लागू किया गया है। आदेश जारी होने के पश्चात केवल आवश्यक संस्थान एवं व्यापारिक प्रतिष्ठान खुले रहेंगे।
जैसे निजी संस्थाएं:
इस दौरान मेडिकल स्टोर, दैनिक उपयोग की वस्तुओं को बेचने संबंधी जनरल स्टोर, किराना दुकान, प्रोविजन स्टोर, सब्जी एवं फल से संबंधित स्थाई दुकान एवं घूम कर बेचने वाले सब्जी एवं फल के ठेेले, पेट्रोल पंप, गैस एजेंसियां, गुड्स कैरियर से संबंधित सेवाएं एवं उनको संचालित करने वाले संस्थान, मीडिया संस्थान, मोबाईल रिचार्ज दुकान, अनाज एवं सब्जी मंडियां, होटल जिसमें यात्रियों के रूकने की सुविधाएं हो, रैन बसेरा खुले रहेंगे।
शासकीय प्रतिष्ठान:
इमरजेंसी सुविधा प्रदान करने वाले सभी कार्यालय, जल प्रदाय सेवाएं, बैंक, एटीएम, टेलीफोन एक्सचेंज एवं दूरसंचार से संबंधित कार्यालय (शासकीय एवं निजी संस्थान दोनों)। रेल्वे स्टेशन एवं बस स्टेशन के 100 मीटर के परिधि में संचालित होने वाले सिर्फ होटल एवं रेस्टोरेंट खुले रहेंगे।
आदेश में सभी प्रकार के सभा, आयोजन, जुलूस, सांस्कृतिक, सामाजिक एवं वैवाहिक कार्यक्रम तत्काल प्रभाव से रोकने के निर्देश दिए गए हैं। पार्क, रोड अथवा अन्य सार्वजनिक स्थल पर 4 से अधिक व्यक्तियों की आवाजाही को पूर्णत: प्रतिबंधित किया गया है। संस्थान व प्रतिष्ठान कोरोना संक्रमण से बचने के उपायों के साथ प्रतिष्ठान का संचालन करना सुनिश्चित करने कहा गया है। आदेश का पालन जिले के सभी नागरिकों, कार्यालय एवं प्रतिष्ठान के संचालकों को करना आवश्यक है। निषेधाज्ञा का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी।



आवश्यकता है पत्रकारों की संपादक नवेद आज़मी 09098350946